अमरोहा:नगरपालिकाऔरजलनिगमने28हजारघरोंमेंपानीकीटोटियांलगवाकरनगरमेंपेयजलआपूर्तिदेनेकीदावेदारीकररहाहै।जबकिहकीकतयहहैकिटोटियांलगनेकेबावजूदअधिकतरघरोंमेंएकबूंदभीपानीनहींआरहाहै।जिसमेंपानीआरहातोउन्हेंघरोंमेंमोटरलगवारखीहैं।जिससेलोगबूंद-बूंदपानीकेलिएतरसरहेहैं।वहहैंडपंपोंसेपानीभरकरलानेपरमजबूरहैं।

शहरमेंलगभग2.20लाखकीआबादीहै,जो34वार्डोंमेंविभाजितहै।नगरपालिकाऔरजलनिगमलोगोंकोपेयजलउपलब्धकरानेकेलिए28हजारघरोंमेंपानीकीटोटियांलगवानेकीदावेदारीकररहेहैं।जिसमेंपालिकाकीतरफसेअमृतयोजनाकेतहत13हजारघरशामिलहैं।नगरवासियोंको16ट्यूबवेलोंऔरनौजनरेटरोंसेपेयजलआपूर्तिदीजातीहै।मजेकीबातयहहैकिपालिकाऔरनगरनिगमनेनगरवासियोंकेघरोंमेंपेयजलकेलिएटोटियांतोलगवादी,लेकिनइसमेंसेआधेसेअधिकघरऐसेहैंजिसमेंटोटियांलगवानेकेबावजूदअभीतकपानीकीएकबूंदभीनहींआईहै।जिसकेचलतेवहहैंडपंपोंसेहीपानीभररहेहैं।ऐसेघरमुहल्लाछेबड़ा,डाकबंगला,जयओमनगर,अहमदनगर,मोतीनगरआदिमुहल्लेवासियोंकेघरोंमेंपानीनहींआरहाहै।जिनकेघरोंमेंपानीआरहाउनकेघरोंमेंमोटरलगीहैं।मुहल्लाछेबड़ाकेआलेहसन,रणजीतवरूण,महेशआदिलोगोंकाकहनाहैकिएकसालसेअधिकहोगयाटोटीलगाए,लेकिनआजतकपानीनहींआया।जेईअशोककुमारकाभीमाननाहैकिऊंचाईवालेस्थानोंपरपानीकाप्रेसरनहींपहुंचताजिससेउन्हेंमोटरलगानीपड़तीहै,लेकिनबातयहहैकिहरकोईमोटरनहींलगवासकता।यहकहनाहैलोगोंका

-हमारेमुहल्लेमेंपालिकानेकरीबडेढ़वर्षपूर्वपानीकीटोटियांलगाईथीं।आजतकपानीनहींआरहाहै।हमअपनेकामकेलिएसड़कपरलगेहैंडपंपसेहीपानीभरकरलातेहैंपालिकाऔरसभासदसेभीकईबारशिकायतभीकरचुकेहैं।

-बबीतादेवी,मुहल्लाछेबड़ा-हमारेयहांक्याकिसीकेघरमेंभीलगीटोटियोंमेंपानीनहींआरहाहै।पालिकामेंजाकरकईबारपानीनहींआनेकीशिकायतकरचुकेहैं,लेकिनकोईयहांनहींभटका।हमहैंडपंपोंसेहीपानीभरकरघरोंपरलातेहैंऔरअपनाकामचलातेहैं।-सुमनरानी,मुहल्लाछेबड़ा-जबसेपानीकीटोटीलगीहै।तबसेपानीनहींआरहाहै।पानीहैंडपंपोंसेलेकरआतेहैं।उसीसेकपड़े,खाना,स्नानकरतेहैं।पालिकासेकईबारटोटीमेंपानीनहींआनेकीशिकायतभीकी,लेकिनआजतकपानीकीव्यवस्थादुरुस्तनहींकी।।-ताहिर,मुहल्लाछेबड़ा

-कुछजगहपानीकीटंकियांचालूनहींहैऔरकुछऊंचेस्थानोंकेघरोंपरपानीकाप्रेशरनहींपहुंचपाताहै।जिसकेचलतेलोगोंकेघरोंमेंलगीटोटियोंमेंपानीनहींआरहाहै।जिनकेघरोंमेंमोटरलगीहैउनकेघरोंमेंपानीआरहाहै।-अशोककुमार,जलकलजेई

By Field