देहरादून,राज्यब्यूरो।विषमभूगोलऔर71फीसदवनभूभागवालेउत्तराखंडमेंवनकानूनोंकीबंदिशोंकेचलतेविकासकार्योंकोलेकरछटपटाहटसाफदेखीजासकतीहै।गांवोंकोसड़कसुविधासेजोड़नेवालीप्रधानमंत्रीग्रामसड़कयोजना(पीएमजीएसवाई)भीइससेअछूतीनहींहै।पीएमजीएसवाईकी104सड़केंवनभूमिहस्तांतरणनहोनेसेअटकीहैं।823किलोमीटरलंबाईकीइनसड़कोंकाकामशुरूनहोनेसेसंबंधितगांवोंकीसड़कसेजुड़नेकीआसअधूरीहै।हालांकि,बदलीपरिस्थितियोंमेंअबजबकिमशीनरीगतिपकड़नेलगीहैतोइनकेलिएकसरतप्रारंभहोगईहै।

पीएमजीएसवाईकेतहतपूर्वमें1700किलोमीटरसड़कोंकेलिएवनभूमिहस्तांतरणहोनाथा।इनमेंसेबीतेवित्तीयवर्षतकजैसे-तैसे877किमीसड़कोंकोफॉरेस्टक्लीयरेंसमिलनेकेसाथहीवनभूमिकाहस्तांतरणहुआतोवहांकामभीचलरहाहै।इसकेबाद823किलोमीटरलंबाईकी104सड़केंअटकगई।सूत्रोंकेमुताबिकइनमेंसे70सड़कोंकेप्रस्तावपूर्वमेंकेंद्रीयवनएवंपर्यावरणमंत्रालयकोगएथे,जिन्हेंतमामआपत्तियोंकेसाथलौटादियागयाथा।

सूत्रोंनेबतायाकिबादमेंइन104सड़कोंकेसंबंधमेंसंशोधितप्रस्तावतैयारकिएगए।कुछकेंद्रकोपुन:भेजेगए।बावजूदइसकेअभीतकयेतमामस्तरोंपरअटकेहुएहैं।सूत्रोंकेमुताबिककुछसड़केंनोडलअफसर,कुछकेंद्रऔरकुछविभागस्तरपरलंबितपड़ेहैं।नतीजतनफॉरेस्टक्लीयरेंसऔरवनभूमिहस्तांतरणनहोनेसेइनसड़कोंकेकामशुरूनहींहोपारहेहैं।

इसबीचकोरोनासंकटकेचलतेउत्पन्नपरिस्थितियोंनेभीइसराहमेंदिक्कतेंखड़ीकीं।हालांकि,अबमशीनरीकेरफ्तारपकड़नेकेसाथहीशासनइनसड़कोंकोलेकरसक्रियहुआहै।अपरसचिवउदयराजसिंहकेअनुसारइन104सड़कोंकेवनभूमिसेसंबंधितप्रकरणोंकेनिस्तारणकोतेजीलानेकेनिर्देशदिएगएहैं।साथहीकेंद्रसेभीइसबारेमेंआग्रहकियाजाएगा।उन्होंनेउम्मीदजताईकिजल्दहीइनसड़कोंकीफॉरेस्टक्लीयरेंसववनभूमिहस्तांरणसेजुड़ीदिक्कतोंकोहलकरलियाजाएगा।

यहभीपढ़ें:सीएमनेघोषणाओंकोनिर्धारितसमयमेंपूर्णकरनेकेदिएनिर्देश

श्रमिकनमिलनेसेबढ़ीदिक्कतें

कोरोनासंकटकेमद्देनजरपीएमजीएसवाईकीजिनतीनसौसेज्यादासड़कोंपरकामशुरूकियागयाहै,उनमेंअबश्रमिकोंकीकमीसेदिक्कतेंबढ़गईहैं।पूर्वमेंइनसड़कोंकीसाइटपर16हजारश्रमिकथे,मगरअबइनमेंसेअधिकांशवापसलौटचुकेहैं।सूरतेहाल,इनसड़कोंकाकाममहजऔपचारिकतातकसिमटकररहगयाहै।

यहभीपढ़ें:निगमअब30जूनतकनदियोंमेंकरसकेगाउपखनिजचुगान