वाराणसी,जेएनएन।जनवरी-2017से15मार्च2021तकजनपदमें63203लाभार्थियोंकोप्रधानमंत्रीमातृवंदनायोजनाकालाभमिलचुकाहै।योजनाकेतहतजिलेमेंअबतक25.76करोड़रुपयेडीबीटीकेमाध्यमसेलाभाॢथयोंकेखातेमेंभेजेजाचुकेहैं।योजनाकेचारसालपूरेहोनेकेउपलक्ष्यमेंयहजानकारीएसीएमओएवंनोडलअधिकारीडा.एकेमौर्यनेसोमवारकोसाझाकी।

उन्होंनेबतायाकिबनारसकेसाथहीपूरेप्रदेशमेंप्रधानमंत्रीमातृवंदनायोजनाजनवरी-2017सेशुरूकीगई।पहलीबारगर्भवतीहोनेवालीमहिलाओंकोयोजनाकेतहततीनकिस्तोंमें5000रुपयेदिएजातेहैं।पहलीकिस्त1000रुपयेकीहोतीहै,जोकिगर्भावस्थाकेदौरानपहले150दिनोंकेअंदरपंजीकरणकरानेकेबाददीजातीहै।दूसरीकिस्तगर्भावस्थाके180दिनोंकेअंदरकमसेकमएकप्रसव-पूर्वजांच(एएनसी)करानेपरप्रदानकीजातीहै।दूसरीकिस्तमेंलाभार्थीको2000रुपयेमिलतेहैं।तीसरीकिस्तप्रसवके42दिनोंकेबादबच्चेकाप्रथमचरणकाटीकाकरणपूर्णहोनेपरमिलतीहै।इसकेतहतलाभार्थीको2000रुपयेदिएजातेहैं।यहपूरीप्रक्रियाऑनलाइनहैऔरपोर्टलसेजुड़ीहै।पोर्टलपरलाभार्थीकापंजीकरणहोनाजरूरीहै,क्योंकिइसीकेआधारपरउसेयोजनाकालाभमिलताहै।

पोषणसहायताकेलिएदीजातीहैसहायता

सीएमओडा.वीबीसिंहनेबतायाकिपहलीबारगर्भवतीहोनेवालीमहिलाओंकोप्रधानमंत्रीमातृवंदनायोजना(पीएमएमवीवाई)केतहतपोषण-सहायताकेलिएतीनकिश्तोंमें5000रुपयेसरकारकीओरसेसीधेउनकेपंजीकृतखातेमेंपहुंचाएजातेहैं।इसयोजनाकाउद्देश्यग्रामीणएवंशहरीक्षेत्रकीमहिलाओंकोगर्भावस्थाकेदौरानबेहतरपोषणउपलब्धकरानाहै,ताकिजच्चा-बच्चादोनोंस्वस्थरहें।

क्षेत्र                लाथार्थी (फीसद)

-आराजीलाइन      8017  (112)

-बड़ागांव          5663   (113)

-चिरईगांव         6504  (110)

-चोलापुर          5157  (95)

-हरहुआ           6870  (112)

-काशीविद्यापीठ   6521  (111)

-पिंडरामें         6773  (109)

-सेवापुरी          6191  (117)

-शहरीक्षेत्रमें    11507  (32)।

By Douglas