जागरणसंवाददाता,पठानकोट:इंटरनेटमीडियाकेमाध्यमसेठगीकेलगातारमामलेसामनेआतेरहतेहैं।अबसाइबरअपराधियोंकेनिशानेपरविधायकअमितविजकेस्वर्गीयपिताअनिलविजभीआगएहैं।उनकेनामऔरफोटोसेफेसबुकपरफर्जीअकाउंटबनाकरलोगोंसेपैसेमांगेगएहैं।विधायकनेफर्जीखातेकीजानकारीमिलतेहीअपनेपरिचितोंकोजागरूककिया।उन्होंनेकहाहैकिकिसीकोपैसेनदें।इसकेसाथहीउन्होंनेथानादोमेंभीशिकायतदेदीहै।

गौरहोकिविधायकअमितविजकेपिताअनिलविजकीमौतकरीबएकसालपहलेहोचुकीहै।वहकांग्रेसकेवरिष्ठनेताकेसाथहीजिलाप्रधानभीरहचुकेहैं।शुक्रवारशामचारबजेआरोपितनेफर्जीअकाउंटसेविधायककेएकपरिचितकोमैसेजकियाकिकैसेहो।जवाबआयाफ‌र्स्टक्लास।आरोपितनेफिरकहाएककामहै।गूगल-पेयूजकरतेहो।जवाबमिलाहांजी।फिरकहागयाकिकुछरुपयेट्रांसफरकरसकतेहोअर्जेंटहै।जवाबमिलाहोजाएगा।इसीप्रकारएकअन्यपरिचितकोभीफोनपेएपकेजरिये9675449083नंबरपर20हजाररुपयेभेजनेकेलिएकहागयाथा।

इससंबंधमेंथानादोकेएसएचओदविंदरप्रकाशनेकहाकिविधायकअमितविजनेइससंबंधमेंशिकायतकीहै,जिसेआगेसाइबरसेलकोभेजाजाएगा।

By Field