कुणालदानयीदिल्ली,30दिसंबरभाषाविरासतमेंदिलचस्पीरखनेवालेलोगयहांएकआलीशानपुरानीहवेलीमेंदिल्लीकीबहुरंगीऐतिहासिकविरासतपरआधारितसंगीतमयनृत्यप्रस्तुतियाफिरजैजजैसेनृत्य-संगीतकाआनंदलेतेहुएनयेसालकाआगाजकरसकतेहैं।भोजनकेसाथरंगमंचकाअनूठाअनुभवलेनेकेलिएपुरानीदिल्लीस्थितधर्मपुराकी150सालपुरानीहवेलीमेंदिल्लीपारसीअंजुमनमेंघुंघरूनामकसंस्थानेलाइवजैजसंगीतकीपेशकशकीहै।नववर्षकीशुरूआतकेलिएव्यंजनभीशानदारतरीकेसेतैयारकिएगएहैं।घुंघरूकेआयोजकवर्षकीइसअंतिमप्रस्तुतिकेलिएतैयारियोंमेंजुटेहैं।कथकनर्तकभीइसेभव्यआयोजनबनानेमेंकोईकसरबाकीनहींरखरहेहैं।रूद्रएक्सपेरियंसकीसहसंस्थापकएकताकपूरनेकहा,31दिसंबरकीरातहमारेमेहमानोंकोपिछले1000सालकेदिल्लीकेइतिहासकाझारोखादेखनेकोमिलेगा।खुदप्रशिक्षितशास्त्रीयनृत्यांगनाकपूरनेकहा,भारतऐसादेशहैजिसकीसमृद्धसांस्कृतिकविरासतहै।हमचाहतेहैंकिलोगइसकालुत्फउठानेकेसाथसाथ2017कोअलविदाकहें।रूद्रएक्सपेरियंसकेसहसंस्थापकमहाराजआईएसवाहीनेकहाकिभोजनकेसाथरंगमंचकाविचारदिल्लीकेलोगोंकोशानदारअनुभवलेनेकामौकादेगा।करीबएकघंटेकीइससंगीतमयऔरपारंपरिकनृत्यप्रस्तुतिकेसाथदर्शकोंकोकथावाचनकाभीरसास्वादनकरनेकाअवसरमिलेगाऔरइसदौरानवेपृथ्वीराजचौहानसेलेकरलोधीवंशतकऔरवहांसेब्रिटिशराजतथास्वतंत्रआधुनिकभारततककेऐतिहासिकआख्यानोंकोजानसकेंगे।दिल्लीकेमशहूरफिरोजशाहकोटलास्टेडियमकेसामनेस्थितदिल्लीपारसीअंजुमनस्थितहैऔरउसकाअपनाऐतिहासिकमहत्वहै।भाषा

By Elliott