मणिकांतमयंक,फतेहाबाद

योगअथवायौगिकक्रियाओंकेबलअसाध्यरोगोंपरजीत।फिरउनअचूकयोगोंकोसेहतमंदसमाजकेबीचलेजाना।यहमकसदबनगयाथाग्रामीणअंचलकीतीन

महिलाओंका।इनमहिलाओंनेपहलेअपनीबीमारीपरविजयप्राप्तकींऔरफिरयोगसेरोगोंकेनिदानकासंदेशवाहकबनगईं।मेडिकलसाइंससेथक-हारयोगकेबलव्याधियोंसेजंगजीनेवालीयेदेवियांस्वस्थसमाजकीश्रद्धाबनगईहैं।

पांचसालसेमाइग्रेनकोमातदेरहींसंगीता

37सालकीसंगीतासोनीपांचसाढ़ेपांचसालपहलेसिरदर्दरहनेलगाथा।उल्टीभीहोतीथी।घरमेंकिसीसेबातकरनेकामननाकरे।उन्होंनेडाक्टर्सकोदिखाया।माइग्रेनसामनेआया।एलोपैथिकडाक्टर्ससेदवाईली।तीनमाहचलीदवाई,ठीकहोगया।लेकिनअभीकुछदिनबीतेनहींकिवहीसिरदर्दऔरउल्टीफिरसेशुरू।अबकीबारउन्होंनेयोगाचार्यकीरायली।योगगुरुनेउन्हेंजल-नीतिकाउपायबताया।राहतमिली।संगीतानेधर्मशालामेंआयोजितहोरहेयोगकैंपमेंजाना

आरंभकिया।घरआनेलगेयोगगुरु।हलासन,सर्वागासन,पवनमुक्तआसन,सेतुबंधआसन,मरकटासनवसूर्यनमस्कारकोदिनचर्यामेंशामिलकरलिया।संगीताबतातीहैंकिअबपांचमाहसेवहमाइग्रेनमुक्तहोगईहैं।

---------------------------------------------------

महिमाकीलौटआईजीवनकीसांस

दो-ढाईसालपहलेकीबातहै।कनकअर्थातगेहूंकीकटाईचलरहीथी।भट्टूकलांकीमहिमागोयलकोसांसलेनेमेंदिक्कतमहसूसहुई।उखड़ीसांसेंपरेशानकररहीथीं।डाक्टर्सकोदिखाया।सबनेकहा-नाककामांसबढ़गयाहै।बढ़ाहुआसाइनसप्रॉब्लमकरनेलगा।जिसडाक्टरकोदिखातीं,वहीआपरेशनकीसलाहदेताथा।यहभीकहताकिऑपरेशनसेभीस्थाईतौरपरठीकहीहोजाएगा,इसकीगारंटीनहीं।महिमाकोऑपरेशननामसेहीडरथा।उन्होंनेयोग-क्रियाएंअपनानेकामनबनाया।योगगुरुमदनगोपालनेकहा-जल,सूतऔररबड़नीतिकाप्रयोगकरनेसेलाभमिलेगा।महिमानेकुछहीदिनोंबादइनविधियोंसेफायदामहसूसकिया।वहबतातीहैंकियोग-क्रियाओंकेबलअबवहडेढ़सालसेस्वस्थहैं।

-------------------------------------------------------

घेंघाकोदूरभगागयाशर्मिलाकायोग

गवर्नमेंटजॉबकीतैयारीकररहीहैंशादीशुदाशर्मिला।संतान-सुखसेइसलिएवंचितरहींक्योंकिडॉक्टर्सनेउन्हेंथायराइडबतादिया।मनमेंशंकाओंनेघरबनालियाथा।फिरडॉक्टर्सनेकहा-इसकीसर्जरीकरवानीपड़ेगी।शर्मीलाकोयोगगुरुनेगोल्टरअर्थातघेंघाबतायाऔरउन्हेंकुछयोगक्रियाओंकेटिप्सदिये।पतंजलिकीकुछदवाइयांभीआयर्वेदाचार्यसेमिली।शर्मिलाबतातीहैंकिउन्होंनेउज्जयीप्राणयाम,कपालभाती,अनुलोम-विलोम,भुजंगासनजैसीअनेकयोगक्रियाओंकोआत्मसातकिया।40दिनबीतेहोंगे।अबवहस्वस्थहैं।लेकिनइसकेलिएउन्हेंनियमितयोगाकरनापड़ा।10-15मिनटकीअवधिसेशुरूयोगअबएकघंटेतकजापहुंचाहै।वेबतातीहैंकिअपनीमहिलासाथियोंकोभीयोगसेनिरोगीकायाकेगुरबतारहीहैं।

-----------------------------------------------------------

योगकीविविधक्रियाओंमेंअद्भतशक्तिहै।येतीनोंमहिलाएंखुदस्वस्थहोकरसेहतमंदसमाजकेलिएसंकल्पितहैं।काफीसंख्यामेंमहिलाएंयोग-शिक्षादेरहीहैं।

-मदनगोपालआर्य,मुख्ययोगशिक्षक,पतंजलियोगपीठहरिद्वार।

By Farrell