जागरणसंवाददाता,बिलासपुर:

घुमारवींउपमंडलकेतहतआनेवालेकुठेड़ाइलाकेमेंदंतचिकित्सकडॉ.राजेशभारद्वाजअपनाक्लीनिकचलातेहैं।सुबहचारबजेसेयेलोगोंकी¨जदगीकोयोगसेनिरोगबनानेमेंजुटजातेहैं।योगकेप्रतिइनकीरूचिवसमर्पणकास्तरयहहैकियेअपनेखर्चपरहीपूरेजिलेमेंयोगशिविरलगातेहैं।उनकेसमर्पणभावनाकोदेखतेहुएपंतजलियोगपीठहरिद्वारनेइन्हेंपूरेजिलेकाकार्यभारभीदेरखाहै।डॉ.राजेशभारद्वाजबतातेहैंकिवहघुमारवींकीहटवाड़केदिप्पुरगावकेरहनेवालेहैं।उनकेजीवनकालक्ष्यअबहरघरतकयोगकोपहुंचानाहै।उनकेइसअभियानसेलोगजुड़रहेहैं।अबतकवहजिलेकेकईक्षेत्रोंमेंयोगशिविरलगाचुकेहैं।

ग्रामपंचायतकपाहड़ाकेसंदेशशर्माशिक्षाविभागसेमुख्यशिक्षिकाकेतौरपररिटायरहुईहैं।वहरिटारमेंटसेपहलेभीयोगसेजुड़ीहुईथीं।अबउन्होंनेखुदकोयोगकोसमर्पितकरदियाहै।वहबिलासपुरकीमहिलायोगप्रभारीहैंऔरइसमेंकार्यमेंनि:शुल्कयोगदानदेतीहैं।

By Douglas