delhi high court recruitment online apply

बताया जाता है कि बेनीपुर करहरी गांव का मो. सदाम बहेड़ा छोटकी बाजार के सब्जी दुकानदार छेदी के नाती से बकाया 70 हजार रुपये मांगने गया था। इस दौरान चौगमा के कुछ युवकों से सद्दाम की कहासुनी हो गई। कजियाना के कुछ युवक सद्दाम का पक्ष लेकर चौगमा के युवकों से मारपीट करने लगे। देखते ही देखते यह सूचना दोनों गांवों तक पहुंची। इस बात को लेकर दोनों गांव के कुछ लोगों ने रोड़ेबाजी शुरू कर दी। रोड़ेबाजी की घटना में दोनों तरफ के आधा दर्जन लोग चोटिल हुए। इससे बहेड़ा बाजार एवं आसपास में कुछ देर के लिए अफरातफरी का माहौल हो गया। सूचना मिलते ही एसडीओ प्रदीप कुमार झा, डीएसपी उमेश्वर चौधरी के नेतृत्व में भारी संख्या में पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले को शांत कराया। सोमवार को दिन में बंद के दौरान बहेड़ा बडी बाजार में कजियाना गांव के कुछ राजद समर्थकों एवं दुकानदारों के बीच झड़प हुई थी। कुछ शरारती तत्वों ने रात में सूचना फैला दी कि बंद समर्थक फिर दुकानदार से मारपीट कर रहे हैं। इसको लेकर घटनास्थल पर भारी संख्या में लोग जमा हो गए। तनाव की सूचना मिलने पर एसएसपी मनोज कुमार भी रात करीब बारह बजे घटनास्थल पर पहुंच गए। एसडीओ एवं डीएसपी के साथ तीन बजे तक कैंप किया। एसएसपी को दोनों गांव के गणमान्य लोगों ने बताया कि कुछ असामाजिक तत्व आपसी भाईचारा के माहौल को बिगाड़ना चाह रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कि कुछ आवारा किस्म के युवक बहेड़ा बाजार में रात में बराबर मोटरसाइकिल से मटरगश्ती करते हैं, उनको चिह्नित कर कार्रवाई की जाए। एसएसपी ने असामाजिक तत्वों की पहचानकर उनके खिलाफ अविलंब कार्रवाई करने का निर्देश डीएसपी को दिया। घटना को लेकर दोनों पक्षों की शांति समिति की बैठक बुलाने का निर्देश दिया। कोट :